यह है दिल्ली के झोपड़ पट्टी और खलियान में रहने वाले कुछ असहाय लोग, कूड़ा चूगना, टीन, पन्नी आदि इकठ्ठा कर अपना भरण पोषण किया करते थे. इनके काम की वज़ह के लोग इनसे दूर रहते हैं जिस कारण इन्हें भुखमरी जेसे हालात का सामना करना पड़ रहा है.

Tinu Said
New Delhi

Beneficiary: Tinu said

₹ 0.00 raised of ₹ 400000 Goal

0%
  • 93 Days left
  • 0 Backers


covid-19 जेसी महामारी के बाद इनका जीवन और भी मुश्किल भरा हो गया है ईन लोगों की परेशानी अभी भी ताजा है, मैं मदद कर रहा हू पर ज्यादातर लोगों तक पहुचने में असहाय हू इसलिए यहा लिख रहा हू






Campaign Disclaimer: The pitch, information and the opinions, expressed in this campaign page are those of the campaigner, users or beneficiaries, and not CrowdKash. If such claims are found to be not true, CrowdKash, in its sole discretion, has the right to stop the campaign, and refund the contributions to respective contributors.